स्वच्छ सन्देश: हिन्दोस्तान की आवाज़

Icon

सलीम खान का एक छोटा सा प्रयास

>हाँ, मैं हिंदू हूँ…

>

हिंदू शब्द अपने आप में एक भौगोलिक पहचान लिए हुए है, यह सिन्धु नहीं के पार रहने वाले लोगों के लिए इस्तेमाल किया गया था या शायेद इन्दुस नदी से घिरे स्थल पर रहने वालों के लिए इस्तेमाल किया गया था। बहुत से इतिहासविद्दों का मानना है कि ‘हिंदू’ शब्द का प्रयोग सर्वप्रथम अरब्स द्वारा प्रयोग किया गया था मगर कुछ इतिहासविद्दों का यह भी मानना है कि यह पारसी थे जिन्होंने हिमालय के उत्तर पश्चिम रस्ते से भारत में आकर वहां के बाशिंदों के लिए इस्तेमाल किया था। धर्म और ग्रन्थ के शब्दकोष के वोल्यूम # 6,सन्दर्भ # 699 के अनुसार हिंदू शब्द का प्रादुर्भाव/प्रयोग भारतीय साहित्य या ग्रन्थों में मुसलमानों के भारत आने के बाद हुआ था। भारत के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू ने अपनी प्रसिद्ध पुस्तक ‘द डिस्कवरी ऑफ़ इंडिया’ में पेज नम्बर 74 और 75 पर लिखा है कि the word Hindu can be earliest traced to a source a tantrik in 8th century and it was used initially to describe the people, it was never used to describe religion… पंडित जवाहरलाल नेहरू के मुताबिक हिंदू शब्द तो बहुत बाद में प्रयोग में लाया गया। हिन्दुज्म शब्द कि उत्पत्ति हिंदू शब्द से हुई और यह शब्द सर्वप्रथम 19वीं सदी में अंग्रेज़ी साहित्कारों द्वारा यहाँ के बाशिंदों के धार्मिक विश्वास हेतु प्रयोग में लाया गया। नई शब्दकोष ब्रिटानिका के अनुसार, जिसके वोल्यूम# 20 सन्दर्भ # 581 में लिखा है कि भारत के बाशिंदों के धार्मिक विश्वास हेतु (ईसाई, जो धर्म परिवर्तन करके बने को छोड़ कर) हिन्दुज्म शब्द सर्वप्रथम अंग्रेज़ी साहित्यकारों द्वारा सन् 1830 में इस्ल्तेमल किया गया था.
इसी कारण भारत के कई विद्वानों और बुद्धिजीवियों का कहना है कि हिन्दुज्म शब्द के इस्तेमाल को धर्म के लिए प्रयोग करने के बजाये इसे सनातन या वैदिक धर्म कहना चाहिए. स्वामी विवेकानंद जैसे महान व्यक्ति का कहना है कि “यह वेदंटिस्ट धर्म” होना चाहिए….जारी

Advertisements

Filed under: Uncategorized

9 Responses

  1. the pink orchid कहते हैं:

    >badi hi naveen soch zaahir ki aapne yahaan par.. likhte rahiye..

  2. संजय बेंगाणी कहते हैं:

    >सनातन कह लेंगे जी. क्या फर्क पड़ता है. बस फिर तमाम भारतवासियों को खूद को हिन्दू कहना पड़ेगा.

  3. संजय बेंगाणी कहते हैं:

    >सनातन कह लेंगे जी. क्या फर्क पड़ता है. बस फिर तमाम भारतवासियों को खूद को हिन्दू कहना पड़ेगा.

  4. सलीम ख़ान कहते हैं:

    >sanjay ji, aapne jis hindu shabd ka prayog kiya wo shayed 19vi satabdi wala hai….

  5. Kaushal कहते हैं:

    >फिलहाल आपका ब्लाग अभी ही सरसरी तौर पर देखा है। सभी आइटम पठनीय लगे। इसे पढ़ूंगा, इत्मीनान से। आपने मेरे ब्लाग को भी पढ़ना शुरू किया है, इसके लिए आपको बहुत-बहुत धन्यवाद।

  6. Kaushal कहते हैं:

    >फिलहाल आपका ब्लाग अभी ही सरसरी तौर पर देखा है। सभी आइटम पठनीय लगे। इसे पढ़ूंगा, इत्मीनान से। आपने मेरे ब्लाग को भी पढ़ना शुरू किया है, इसके लिए आपको बहुत-बहुत धन्यवाद।

  7. MAYUR कहते हैं:

    >सलीम जी , आपने अपनी अपनी डगर ब्लॉग पर अपना मत रखकर पोस्ट को जो दृष्टि दी है उसके लिए धन्यवाद . इतने सन्दर्भों के साथ आपने सही द्रष्टिकोण दिया है . पर हिंदुत्व को हम और भी व्यापक मानते हैं अपनी अपनी डगर

  8. MAYUR कहते हैं:

    >सलीम जी , आपने अपनी अपनी डगर ब्लॉग पर अपना मत रखकर पोस्ट को जो दृष्टि दी है उसके लिए धन्यवाद . इतने सन्दर्भों के साथ आपने सही द्रष्टिकोण दिया है . पर हिंदुत्व को हम और भी व्यापक मानते हैं अपनी अपनी डगर

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

%d bloggers like this: